Thursday, July 29, 2010

दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स 2010 (3)



काम अधूरा है  या भ्रष्टाचार हो रहा है इन सब बातों से अब कुछ नहीं होने वाला है केवल देश की इज्जत को बरकरार रखने के जुनून से हमें इस काम को पूर्णता प्रदान करनी है | 


क्या आपको यह नहीं लगता कि इस वक़्त अन्य मामलों को न उठाते हुए केवल खेलों की सफलता के लिए सुझावों की लंबी कतार की आवश्यकता है, "अपने देश की शान बनना बड़े गौरव की बात" |


||जय भारत ||

भारतियों और भारत के लिए गौरव की बात :-
ओमुंग कुमार अपनी कला के प्रदर्शन से भारत को दुनिया के सामने एक बार फिर चर्चा में लाने और देश को गौरवशाली बनाने के लिए प्रयासरत हैं


ओमुंग कुमार एक कला निर्देशक (Art Director) है जो पर्यटक गंतव्य स्थान के लिए डिजाइन टीम का नेतृत्व कर रहे हैं, वे अब राष्ट्रमंडल खेलों (CWG) 2010 के स्वागत और समापन समारोह के लिए तैयार है.


ओमुंग कुमार का कहना है कि इस दौरान जो सामग्री इस्तेमाल होगी वह असमान्य होगी, और कुछ ऐसा होगा कि सभी चकित रह जायेंगे | जिससे सारी दुनिया प्रभावित होगी


इस समारोह में शुरू से अंत तक भारतीयता की छवि दिखाई देगी,


मैं हरीश कुमार तेवतिया अपनी और अपने भारतीयों भाईयों की तरफ से ओमुंग जी का शुक्र गुजार हूँ और प्रार्थना करता हूँ कि उन्हें कामयाबी हासिल हो.


अंत में एक निवेदन:-
सरकारी कर्मचारियों, नेताओं और एजेंसियों के साथ साथ नागरिको को भी देश की छवि के प्रति जिम्मेदारी निभाने के लिए तत्पर रहना चाहिए |


जय हिन्द |

14 comments:

Shah Nawaz said...

हरीश कुमार तेवतिया जी आपने बिलकुल सही बात कही है, या यह कहूँ कि मेरे दिल की बात कह दी है. यह भ्रष्टाचार जैसी बातें उठाने का समय नहीं है, इस समय हमें समारोह से जुड़े लोगो का उत्साह बढ़ाने के बारे में सोचना चाहिए. इस तरह की बातों के लिए अथवा जाँच के लिए तो बाद में भी समय मिलेगा. अभी के लिए तो एक ही नारा होना चाहिए और वह है, जय हिंद.

जय हिंद!

Shah Nawaz said...
This comment has been removed by the author.
Sanjeev Gupta said...

आपकी राय से सहमत हूँ. लेकिन भ्रष्टाचारियों को भी नहीं छोड़ना चाहिए, उनको भी पता होना चाहिए कि गलत कम करेंगे तो पकडे जाएँगे.

Sanjeev Gupta said...

ईमेल के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद!

पवन कुमार said...

मणिशंकर अय्यर जैसे लोग देश का नाम बदनाम करने में लगे है उनकी बात सही है लेकिन समय गलत है.
मैं आपकी बात से सहमत हूँ और अप्प्का साथ देने के लिए पूरी तरह तैयार हूँ

जय हिंद

Sapna Awasthi said...

Very nice article, keep it up Harish.

Suvendu Panda said...

If all will feel and act like you, then we together can make a better Delhi and better India.

पवन कुमार said...

.

Saahil said...

Abousily we should maintain India's Pride in front of the Whole World.

India has been a great symbol of Hospitability, and it should be maintained.

Janak said...

Harish, its true k everyone has to support to get these games will contuct successfully but at the end of the day only we, the common man, will become fool...

माधवी said...

Good..........................

Mamta said...

अच्छी पोस्ट...
हमेशा की तरह

हरीश कुमार तेवतिया said...

आप सभी का धन्यवाद

शहरयार said...

आपने सही कहा.

मेरा ब्लॉग
खूबसूरत, लेकिन पराई युवती को निहारने से बचें
http://iamsheheryar.blogspot.com/2010/08/blog-post_16.html